BREAKING NEWS
latest
News
राज्य

राज्य

राज्य/block-5

आपके शहर की खबर

आपके शहर की खबर/block-3

राजनीति

राजनीति/block-6

मनोरंजन

मनोरंजन/block-6

धर्म

धर्म/block-3

"खेल"

खेल/block-3

"लेख"

लेख/block-3

ख़बरें जरा हटके

ख़बरें जरा हटके/block-10

Latest Articles

अनुभवी आर्किटेक्ट्स और इंटीरियर डिजाइनरों से सबसे बड़ी अंतर्दृष्टि सीखना चाहते हैं? A&I Hyderabad के प्रमुख

 


 


   ए एंड आई हैदराबाद एक अनूठी पत्रिका के रूप में उभरा है जो अनुभवी आर्किटेक्ट्स और इंटीरियर डिजाइनरों की अनूठी परियोजनाओं के लिए प्रतिभा और दृष्टि को उजागर करता है।


  इस बारे में पहले ही बहुत कुछ कहा जा चुका है कि कैसे कुछ उद्योगों ने बड़े पैमाने पर अधिग्रहण किया है, विशेष रूप से पिछले कुछ वर्षों में, सार्थक ब्रांड और प्लेटफॉर्म बनाने के लिए अपनी प्रतिबद्धता और दृढ़ संकल्प पर संपन्न। आज, सब कुछ दूसरों को मूल्य प्रदान करने के बारे में है, और यही कारण है कि कितने ब्रांडों ने चतुर व्यावसायिक दृष्टिकोण और विचारों के आसपास काम किया है जो उन्हें अधिकतम लोगों तक पहुंचने में मदद कर सकते हैं और कुछ "अलग" के साथ उनकी सेवा कर सकते हैं। ऐसा ही ए एंड आई हैदराबाद द्वारा किया गया था, जो एक ऐसी पत्रिका है जिसे हैदराबाद के अनुभवी आर्किटेक्ट और इंटीरियर डिजाइनरों की सार्थक अंतर्दृष्टि और अनुभव प्रदान करने के उद्देश्य से बनाया गया था।


  यहां, कई उभरते और जाने-माने आर्किटेक्ट और इंटीरियर डिजाइनर, कई अन्य विशेषज्ञों, विक्रेताओं और अन्य लोगों के साथ, उद्योग में अपने दृष्टिकोण, अनुभव, प्रतिबद्धता और प्रेरणा के बारे में बात करते हैं, वास्तविक उद्देश्य और अधिक सकारात्मकता, ज्ञान को पारित करने के इरादे से और उद्योग में कई अन्य महत्वाकांक्षी प्रतिभाओं और उद्योग के बारे में पढ़ना पसंद करने वालों के लिए आशा करते हैं। A&I हैदराबाद एक द्विमासिक पत्रिका के रूप में विकसित हुआ है, जिसमें उद्योग के इन प्रतिभाशाली लोगों को शामिल किया गया है और विभिन्न परियोजनाओं पर सम्मोहक लिखित लेखों और उनकी राय के माध्यम से दूसरों के बीच अपनी बात फैलाने में मदद की है।


  ए एंड आई हैदराबाद वास्तुकला और इंटीरियर डिजाइनिंग क्षेत्र में हैदराबाद में वास्तविक प्रतिभा का समर्थन करने के लिए भी अद्वितीय है और इसलिए भी क्योंकि टीम ने छात्रों और बढ़ती प्रतिभाओं के लिए लोगों के विचारों, विचारों और अनुभवों को सीखने का माध्यम पाने की आवश्यकता महसूस की है। और उद्योग में अन्य स्थापित नामों के दर्शन के माध्यम से बहुत सी बातें भूल जाते हैं।


  वे एक गर्वित कंपनी हैं जिन्होंने हैदराबाद में वास्तुकला और अंदरूनी के विभिन्न क्षेत्रों में काम किया है, डिजाइन और वास्तुकला डोमेन में दो दशकों का समृद्ध अनुभव और भागीदारी है। यह 2021 में था कि उन्होंने प्रतिभाशाली आर्किटेक्ट और इंटीरियर डिजाइनरों को प्रदर्शित करने के लिए क्षेत्र को समर्पित एक पत्रिका शुरू करने का फैसला किया, और तब से, कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।


 पत्रिका वास्तव में वास्तुकला और आंतरिक डिजाइन का जश्न मनाने वाले माध्यम के रूप में शीर्ष पर जा रही है। वेबसाइट http://aihyderabad.com/ और Instagram @aimagazinehyd के माध्यम से इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करें।

सरकार की योजनाओं को लोगों तक प्रभावी ढंग से पहुॅचाने के लिए मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका : अपर महानिदेशक पीआईबी

 

योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने में पत्रकारिता की महत्वपूर्ण भूमिका: उपायुक्त सिरमौर


पीआईबी चण्डीगढ़ ने नाहन में किया मीडिया कार्याशाला (वार्तालाप) का आयोजन


   सरकार की नीतियों, कार्यक्रमों और योजनाओं को लोगों तक प्रभावी ढंग से पहुॅचाने और विकास के एजेंडे को मजबूत करने के लिए मीडिया एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है । यह बात अपर महानिदेशक (एडीजी) पत्र सूचना कार्यालय, चण्डीगढ़ श्री राजेन्द्र चैधरी ने आज नाहन में आयोजित वार्तालाप के दौरान कही। उन्होंने कहा कि पीआईबी की पहुॅंच राष्ट्रीय तथा प्रदेश की राजधानियों के पत्रकारों तक सीमित न रहकर जिला तथा खण्ड स्तर पर कार्य करने वाले मीडिया कर्मियो तक भी पहुॅंचे।





 


   तथ्यों पर आधारित पत्रकारीता पर बल देते हुए एडीजी पीआईबी चंडीगढ़ ने खबर की प्रमाणिकता की पुष्टि के लिए पीआईबी फैक्ट चैक प्रणाली की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि किसी भी तथ्य की पुष्टि करने के लिए पीआईबी की वेबसाइट पर जाकर आवेदन किया जा सकता है। साथ ही जिन खबरों की अभी तक पुष्टि की गई है उनकी भी जानकारी पीआईबी के पीआईबी फैक्टचेक ट्विटर हैंडल पर प्राप्त की जा सकती है।







 


   मीडिया कार्यशाला (वार्तालाप) के दौरान उपस्थित मीडिया संवाददाताओं को सम्बोधित करते हुए उपायुक्त सिरमौर श्री राम कुमार गौतम ने कहा कि सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने तथा योजनाओं की फीडबेक मीडिया के माध्यम से सरकार तक पहुॅंचाने में पत्रकारिता महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है। उन्होंने कहा कि समाचार तथ्य पर आधारित हों तथा संवाददाताओं को आधारहीन और सनसनीखेज समाचारों को प्रेषित करने से गुरेज करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता सामाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक तथा राजनैतिक गतिविधियों को आम जनता तक पहुॅंचाने का एक सशक्त माध्यम है।





 


   मुख्य चिकित्सा अधिकारी सिरमौर डा. अजय पाठक ने आयुष्मान भारत, टीबी उन्मूलन तथा नशा निवारण, जिला लोक सम्पर्क अधिकारी सिम्पल सकलानी ने सूचना प्रसार में मीडिया की भूमिका, प्रधानाचार्य डाइट ऋषि पाल शर्मा ने सर्व शिक्षा अभियान तथा राष्ट्रीय शिक्षा नीति तथा नेहरू युवा केन्द्र के जिला युवा अधिकारी अनिल डोगरा ने फिट इंडिया तथा स्वच्छ भारत अभियान विषय पर विस्तृत जानकारी दी।

    उपनिदेशक पत्र सूचना कार्यालय चंडीगढ़ हितेश रावत ने मुख्य अतिथि का स्वागत तथा मंच संचालन किया जबकि क्षेत्रीय प्रचार अधिकारी पत्र सूचना कार्यालय चण्डीगढ अहमद खान ने उपस्थित प्रतिभागियों का धन्यवाद किया।

     इस अवसर पर जिला में कार्यरत समाचार पत्रों, इलेक्ट्रॉनिक तथा डिजीटल मीडिया के संवाददाताओं के अतिरिक्त पत्र सूचना कार्यालय चण्डीगढ से तनवीर खीलजी और पवन कुमार भी उपस्थित थे।


Harnoor Chandi भारत में हिप-हॉप दृश्य को अपनी सुरीली ध्वनि और जीवंतता के साथ काम कर रहे है

Indian Hip-Hop musican.
 


  

   एक गायक और संगीत कलाकार के रूप में, वह संगीत के प्रति अपने जुनून में अपने सहज संगीत कौशल और अद्वितीय संगीत भावना के साथ मिश्रित होते हैं।


  इस बारे में पहले ही बहुत कुछ कहा जा चुका है कि कैसे कुछ प्रेरित पेशेवरों ने साहस और अनुग्रह के साथ सफलता की राह पर चल पड़े हैं।  फिर भी, ऐसा लगता है कि दुनिया को उनकी प्रतिभा को जानने के लिए उनके चारों ओर बहुत अधिक चर्चाओं की आवश्यकता है क्योंकि उनमें से अधिकांश युवा ब्रिगेड से संबंधित हैं और यह प्रदर्शित करते हैं कि उनके चुने हुए उद्योगों को संभालने के लिए उनके पास वास्तव में क्या है।  दुनिया भर में संगीत उद्योग ने हमेशा खुले हाथों से प्रतिभाशाली लोगों का स्वागत किया है, और उनमें से कई दिल जीतने और लगातार बढ़ते क्षेत्र में अपने लिए एक अद्वितीय स्थिति बनाने में आगे बढ़े हैं।  हरनूर चंडी अपने श्रोताओं के साथ गहराई से जुड़ने के लिए और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उनके संगीत के लिए उनके दिलों में एक विशेष स्थान बनाने के लिए बिल्कुल और बहुत कुछ कर रहा है।


 हरनूर चंडी पड़ोस के किसी भी अन्य नौजवान की तरह लग सकता है, लेकिन वह निश्चित रूप से सिर्फ इतना ही नहीं है, उसकी लगातार कड़ी मेहनत और एकल के साथ आने में निरंतरता के कारण, जो अभी तक विशिष्टता को उजागर करता है, जो हर एक में अपने अद्वितीय खिंचाव को विकीर्ण करता है।  उन्हें।  19 वर्षीय अनूपगढ़, राजस्थान, भारत का रहने वाला है, और एक गायक और संगीत कलाकार के रूप में अपने लिए एक मजबूत करियर बनाने के लिए मुंबई चला गया।  यह कहना गलत नहीं होगा कि वह पहले से ही अपनी सुरीली आवाज और वाइब के जरिए इंडस्ट्री में अपना नाम बना रहे हैं।


  मुंबई आकर वह अपनी आंखों में एक सपना लेकर आया, वह कबूल करता है।  वह जानता था कि उसकी वांछित सफलता तक पहुँचने की उसकी खोज में कई बाधाएँ आ सकती हैं, लेकिन वह उनसे लड़ने और उद्योग में एक परिष्कृत प्रतिभा में बदलने के लिए हर दिन कुछ नया सीखने के लिए तैयार था।  उनका प्रत्येक गीत जैसे स्काई, राइफल, बैड रोड्स, कैंसिल्ड, किंग मैन, जट्ट हूड - इंस्ट्रुमेंटल वर्जन, गन हूड - इंस्ट्रुमेंटल वर्जन, और ऑलवेज वाइबिंग - इंस्ट्रुमेंटल वर्जन, Spotify और कई अन्य स्ट्रीमिंग साइटों ने उन्हें हिप-हॉप और रैप शैली में कदम रखने में मदद की है, जिससे बड़े पैमाने पर स्ट्रीम और श्रोताओं की कमाई हुई है।


  हरनूर चंडी (@Harnoor_chandi_) अब कई और अविश्वसनीय सिंगल्स बनाना चाहते हैं और लोगों को उनकी डिस्कोग्राफी से प्यार का एहसास कराना चाहते हैं।

भारतीय नौसेना के आईएनएस सतपुरा और पी8आई ने रिमपैक अभ्यास के हार्बर चरण में हिस्सा लिया

 

भारतीय नौसेना,मुख्य समाचार,राष्ट्रीय खबरें,हिंदी टाइम्स ऑफ मालवा,News,


    भारतीय नौसेना का स्वदेशी युद्धपोत आईएनएस सतपुड़ा और पी8आई एलआरएमआरएएसडब्ल्यू विमान अमेरिका स्थित हवाई के पर्ल हार्बर में सबसे बड़े बहुपक्षीय नौसेना अभ्यासों में से एक- रिम ऑफ द पैसिफिक अभ्यास में हिस्सा ले रहे हैं। इसे रिमपैक के रूप में भी जाना जाता है। इस अभ्यास के लिए सतपुड़ा 27 जून, 2022 को और पी8आई विमान 2 जुलाई, 2022 को हवाई पहुंचा था। इस अभ्यास के हार्बर चरण के तहत कई संगोष्ठियों, अभ्यास योजना चर्चाओं और खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इसके अलावा नौसैनिकों के दल ने ऐतिहासिक संग्रहालय पोत यूएसएस मिसौरी का भी दौरा किया और यूएसएस एरिजोना मेमोरियल में द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान सर्वोच्च बलिदान देने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी।






 छह सप्ताह से अधिक के गहन परिचालन और प्रशिक्षण वाले इस अभ्यास में आईएनएस सतपुड़ा और एक पी8आई समुद्री गश्ती विमान हिस्सा ले रहे हैं। इसका उद्देश्य मित्र देशों की नौसेनाओं के बीच अंतर-परिचालन और विश्वास का निर्माण करना है। इस बहुआयामी अभ्यास में 28 देश, 38 युद्धपोत, 9 थल सेना, 31 मानव रहित प्रणाली, 170 विमान और 25,000 से अधिक कर्मी हिस्सा ले रहे हैं। इसके तहत समुद्री चरण 12 जुलाई, 2022 को शुरू होगा और 4 अगस्त, 2022 को समापन समारोह के साथ यह समाप्त होगा।


  वहीं, भारतीय नौसेना का पी8आई एलआरएमआरएएसडब्ल्यू विमान, विश्व के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय समुद्री अभ्यास- द्विवार्षिक रिम ऑफ पैसिफिक (रिमपैक-22) के 28वें संस्करण में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका के हवाई स्थित ज्वाइंट बेस पर्ल हार्बर के एएफबी हिकम पहुंचा है। कमांडर पुनीत डबास के नेतृत्व में पी8आई दस्ते का हिकम हवाई क्षेत्र पर एमपीआरए परिचालन के प्रमुख विंग कमांडर मैट स्टकलेस (आरएएएफ) ने स्वागत किया। पी8आई सात प्रतिभागी देशों के 20 एमपीआरए के साथ समन्वित बहुराष्ट्रीय, बहु-मंच उन्नत पनडुब्बी रोधी युद्ध अभियान में हिस्सा लेगा।

प्रवर्तक श्री प्रकाशमुनि जी म.सा निर्भय का चातुर्मास प्रवेश 9 जुलाई को होगा

 



   

  राजगढ़(धार)। मालव केसरी श्री सौभाग्यमल जी म.सा के सुशिष्य श्रमणसंघ प्रवर्तक श्री प्रकाशमुनि जी म.सा आदि ठाणा 4 एवं पूज्या महासती श्री रमणीक श्री जी म.सा रंजन आदि ठाणा 4 सहित कुल 8 साधु साध्वी भगवंत का चातुर्मास हेतु मंगल प्रवेश 9 जुलाई शनिवार को इन्दौर शहर के ईमली बाजर स्थित महावीर भवन पर होगा, चातुर्मासिक प्रवेश मे देशभर के स्थानकवासी श्री संघ के प्रतिनिधि मंडल के सदस्य प्रवेश यात्रा मे भाग लेने के लिए इन्दौर पहुँचेगे, गुरु सौभाग्य प्रकाश भक्त मंडल के प्रांतीय सदस्य हेमंत वागरेचा ने बताया की प्रवर्तक श्री प्रकाशमुनि जी म.सा का 4 वर्षो के महाराष्ट्र प्रवास के पशचात म.प्र. की धरती पर पदार्पण हुआ है, म.प्र. एवं मालवा के अनेक श्री संघो ने प्रवर्तक श्री प्रकाशमुनि जी म.सा से अपने अपने संघ मे ईस वर्ष का चातुर्मास करने की विनती करी थी, इन्दौर महावीर भवन श्री संघ के अति आग्रह पर प्रवर्तक श्री ने ईस वर्ष का वर्षावास इन्दौर शहर को प्रदान किया, साथ ही प्रवर्तक श्री की आज्ञानुवर्ति पूज्या महासती श्री रमणीक श्री जी म.सा रंजन आदि ठाणा 4 का भी चातुर्मास इन्दोर श्री संघ को प्रदान किया, ईस प्रकार ईस बार महावीर भवन श्री संघ मे चतुर्विधी श्री संघ का चातुर्मास होगा, चातुर्मास प्रवेश को लेकर महावीर भवन श्री संघ के पदाधिकारी बड़े व्यापक स्तर पर तैयारी मे जुटे हुए है, चातुर्मास प्रवेश मे देशभर से 10000 हजार से अधिक गुरू भक्तो के इन्दौर पहुंचने की सम्भावना है, स्थानकवासी श्री संघ के पिन्टु वागरेचा ने बताया की प्रवर्तक श्री के चातुर्मास प्रवेश मे स्थानीय संघ के सदस्यों का प्रतिनिधि मंडल भी इन्दौर जायेगा।

44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल पहुँची भोपाल,खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया को ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल ने सौंपी टॉर्च

The-torch-of-44th-Chess-Olympiad-reached-Bhopal

 


   प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 19 जून को रवाना की गई 44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल रिले 4 जून सोमवार को भोपाल पहुँची। ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल के नेतृत्व में मशाल टी.टी. नगर स्टेडियम पहुँची, जिसका खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने स्वागत किया। 


  मंत्री श्रीमती सिंधिया ने कहा कि भारत में पहली बार चेस ओलिंपियाड होने जा रहा है। तमिलनाडु के महाबलिपुरम में 28 जुलाई से 10 अगस्त तक लगभग 187 देश के 2 हज़ार खिलाड़ी अपने खेल का प्रदर्शन करेंगे। श्रीमती सिंधिया ने कहा कि ये देश के लिए गौरव की बात है कि शतरंज का भारत में जन्म हुआ था, वर्तमान में कई वर्षों के बाद पुनः भारत में चेस ओलिंपियाड हो रहा है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को ये मौका मिल रहा है कि शतरंज ओलिंपियाड मशाल उज्जैन, इंदौर, भोपाल, साँची और ग्वालियर के प्रमुख स्थलों का भ्रमण कर नई दिल्ली के लिए रवाना होगी। 


  खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया ने कहा कि देश में शतरंज के 74 ग्रैंड मास्टर हैं। भारत में होने वाले ओलिंपियाड से बहुत से खिलाड़ी प्रोत्साहित होंगे। उन्होंने कहा हर खेल का समय आता है, अब भारत में शतरंज का समय है।


 खेल मंत्री श्रीमती सिंधिया को ग्रैंड मास्टर अनुराग महामल ने 44वें शतरंज ओलिंपियाड की मशाल सौंपी, जिसे उन्होंने आगे की यात्रा के लिए चेस एसोसिएशन एडहॉक कमेटी के अध्यक्ष श्री गुरमीत सिंह को सौंपा। श्रीमती सिंधिया ने कार्यक्रम में चेस की विधा में पारंगत हो रहे बाल खिलाड़ियों से चर्चा की और उनका उत्साहवर्धन भी किया। 


  प्रमुख सचिव खेल एवं युवा कल्याण श्रीमती दिप्ति गौंड़ मुखर्जी, पूर्व निदेशक सीबीआई श्री ऋषि कुमार शुक्ला, संचालक खेल एवं युवा कल्याण श्री रवि कुमार गुप्ता, रीजनल डायरेक्टर साईं श्री सत्यजीत संकृत, शतरंज के इंटरनेशनल मास्टर अक्षत खंपरिया सहित बड़ी संख्या में खिलाड़ी तथा खेल प्रेमी उपस्थित रहे।

महासती श्री संयमप्रभा जी म.सा एवं साध्वी मंडल हुआ चातुर्मासिक मंगल प्रवेश

 


  


   राजगढ़(धार)। आचार्य भगवंत पुज्यपाद गुरुदेव श्री उमेश मुनिजी म.सा की कृपापात्र एवं बुद्ध पुत्र प्रवर्तक पूज्य श्री जिनेंद्रमुनि जी म.सा की आज्ञानुवर्ति संस्कार दानी पूज्य महासती श्री संयमप्रभा जी म.सा आदि ठाणा 7 का सोमवार को प्रातः 7 बजे के लगभग आडंबर रहित चातुर्मासिक मंगल प्रवेश स्थानक भवन चबुतरा चौक पर हुआ, महासती मंडल के प्रवेश की सुचना श्री संघ के किसी भी सदस्य को नही थी, अचानक हुए ईस मंगल प्रवेश से श्री संघ के सभी सदस्य अचम्भित हो गये, गुरु सौभाग्य प्रकाश भक्त मंडल के प्रांतीय सदस्य हेमंत एवं पिन्टु वागरेचा ने बताया की पूज्य महासती श्री संयमप्रभा जी म.सा अपने साध्वी मंडल के साथ 1 जुलाई को राजगढ की राजेन्द्र कालोनी मे पधारे थे, कालोनी मे पदार्पण के पशचात श्री संघ के सभी सदस्यो को महासती मंडल के चातुर्मास प्रवेश की उत्सुकता थी, महासती श्री संयमप्रभा जी म.सा ने कहा की गुरुदेव की आज्ञा थी की सभी साधु साध्वी अपने अपने चातुर्मास स्थल पर बिना किसी सुचना के पधार जाये, नगर मे हुए ईस आडंबर रहित प्रवेश की सकल श्री संघ के  सदस्यो प्रशंसा हो रही है, श्री संघ के लोगो का कहना की सभी साधु साध्वी भगवंत को ईसी प्रकार के आडंबर रहित चातुर्मासिक प्रवेश करना चाहिए जिससे जीव हिंसा के पाप एवं व्यर्थ के खर्च से बचा जा सके।

  श्री संघ के वरिष्ठ संरक्षक शैतानमल,भेरुलाल वागरेचा एवं संघ अध्यक्ष नरेन्द्र मूणत ने की बताया की श्री संघ मे चातुर्मास की सभी तैयारी पुर्ण हो गयी है, सभी सदस्य चातुर्मास प्रारंभ होने की प्रतीक्षा कर रहे, जिससे अधिक से अधिक धर्म आराधना एवं जीनवाणी श्रवण का लाभ मिल सके, श्री संघ के वर्धमान खाबिया ने बताया की स्थानकवासी श्री संघ के द्वारा 12 वर्षो की विनती के पशचात प्राप्त हुए ईस अवसर पर सकल जैन श्री संघ राजगढ के समस्त सदस्यो को ईस चातुर्मास मे अधिक से अधिक धर्म आराधना ओर प्रवचन मे पधारने का निवेदन किया गया है।