BREAKING NEWS
latest

"उस इंदौरी जज्बे को सलाम, जिससे इंदौर नए-नए कीर्तिमान बना रहा है- धन्यवाद इंदौर-मुख्यमंत्री शिवराज


  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने देवी अहिल्या के भव्य स्मारक निर्माण और दो सौ करोड़ रूपए के कार्यों की घोषणा की

 11.35 करोड़ रूपये लागत व 13.80 टन क्षमता के 11 ऑक्सीजन प्लांट्स का लोकार्पण किया

अभय प्रशाल में आयोजित हुआ "धन्यवाद कार्यक्रम"

 इंदौर। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज इंदौर के नागरिकों, सामाजिक संगठनों, जन-प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि 'उस इंदौरी जज्बे को सलाम' जिसके कारण इंदौर नित नये कीर्तिमान बना रहा है-धन्यवाद इंदौर। इंदौर की इंदौरियत को धन्यवाद देने अभय प्रशाल पहुँचे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौरवासियों के टीकाकरण के प्रति जागरूकता और रिकार्ड बनाने, राधास्वामी सत्संग में विशाल परोपकार का प्रतीक कोविड केयर सेंटर बनाने के लिये इंदौरियों की दानशीलता और इंदौर को कोरोना की विभीषिका से निकालने में जन-सहयोग की भावना का आभार व्यक्त किया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने न केवल कोरोना योद्धाओं के बलिदान को याद किया, वरन उनके परिजनों का आभार भी माना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर की जनता का स्मार्ट सिटी, स्वच्छता, समर्पण, सेवा, सामाजिक सद्भाव, समन्वय, संस्कृति और संस्कार में अव्वल रहने पर कहा कि यह इंदौर की गौरवशाली परम्परा है। देवी अहिल्या के भव्य स्मारक निर्माण के साथ ही उन्होंने 160 करोड़ रूपए स्मार्ट सिटी कम्पनी के लिए देने की घोषणा की। साथ ही 25 करोड़ रूपए ऑक्सीजन प्लांट के लिए और इलाज व्यवस्था के लिए 10 करोड़ रूपए दिए जाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 11.35 करोड़ रूपये लागत और 13.80 टन क्षमता के 11 ऑक्सीजन प्लांट्स का लोकार्पण भी किया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निर्धारित बैड संख्या वाले अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट का होना अनिवार्य किया जाएगा। निजी अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना के लिए पचास प्रतिशत कैपिटल सब्सिडी दी जाएगी।


विकास कार्यों का भूमि-पूजन और लोकार्पण


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बोलिया छत्री, गाँधी हॉल के जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण कार्य के साथ ही संजय सेतु पर दो पहिया वाहनों के लिये मल्टी लेवल पार्किंग का लोकार्पण किया। इसके अलावा उन्होंने 97 करोड़ रूपये के विभिन्न विकास कार्यों का भूमिपूजन किया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर कभी न भूले जाने वाली त्रासदी है।  जन-प्रतिनिधि और प्रशासन के सहयोग और सबसे उल्लेखनीय क्रायसिस मैनेजमेंट समिति के द्वारा किए गए कार्यों से ही हम इससे पार पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि खतरा अभी टला नहीं है। सभी कोविड अनुकूल व्यवहार अपनाएँ।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोजगार, शिक्षा और कोविड कंट्रोल के लिए इंदौर प्रदेश, देश ही नहीं समूचे विश्व में जाना जाए, ऐसी प्लानिंग की जाए। सेम्पल, ट्रैकिंग, टेस्टिंग के जरिये कोरोना की संभावित लहर को रोकने की दिशा में हर संभव कार्य किये जायें।


सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं पर जनता का भरोसा बढ़ा

 मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोविड काल में सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं पर जनता का भरोसा बढ़ा है। इसे बरकरार रखने के लिये पहले ही ऑक्सीजन टेंकरों के लिये अनुबंध किया जाये। शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन हो। बाहर से आने वालों पर निगरानी रखी जाये। कोविड प्रोटोकाल का पालन कराया जाये।


राज्य आपदा प्रबंधन समिति के सदस्य डॉ. निशांत खरे ने इंदौर जिले में कोविड कंट्रोल की दिशा में किये गये कार्यों का प्रस्तुतीकरण दिया। कार्यक्रम के दौरान स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के कार्यों पर बनी डाक्यूमेंट्री का प्रदर्शन भी किया गया।


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कन्या पूजन और दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, सांसद श्री शंकर लालवानी, विधायक श्री रमेश मेंदोला, श्री आकाश विजयवर्गीय, श्रीमती मालिनी गौड़ तथा श्री महेंद्र हार्डिया, सुश्री कविता पाटीदार, श्री सुदर्शन गुप्ता,  श्री जीतू जिराती, श्री गौरव रणदिवे, श्री राजेश सोनकर, श्री मधु वर्मा सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

« PREV
NEXT »

No comments