BREAKING NEWS
latest

प्रदेश में कोरोना की रफ्तार में नियंत्रण है एक मिसाल



Hindi News: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में लगातार प्रयासों से कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर नियंत्रित हो गई है, जो एक मिसाल है। राज्य सरकार द्वारा जन-सहभागिता से कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव की प्रभावी रणनीति के साथ त्वरित और सफल कार्य किए गये हैं। प्रदेश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या प्रतिदिन कम होती जा रही है। पाँच जून की स्थिति में प्रदेश में 10 हजार 103 एक्टिव मरीज हैं और 81 हजार 636 कोरोना टेस्ट किए गए, जिसमें से 735 व्यक्तियों की जाँच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 21 अप्रैल को एक्टिव केसेस की संख्या के हिसाब से मध्यप्रदेश देश में सातवें नम्बर पर था, जो आज की स्थिति में 19वें नम्बर पर है।

  प्रदेश में रिकवरी रेट लगातार बढ़ कर 97.65 प्रतिशत हो गया है। डिण्डोरी और हरदा जिलों को छोड़कर अन्य सभी जिलों में कोरोना के नए केसेस की तुलना में कोरोना से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या अधिक रही है। पाँच जून को अलीराजपुर और बुरहानपुर जिलों में एक भी पॉजिटिव प्रकरण प्राप्त नहीं हुआ। प्रदेश के 38 जिलों सतना, नरसिंहपुर, छतरपुर, गुना, हरदा, बड़वानी, कटनी, छिन्दवाड़ा, शाजापुर, सिंगरौली, डिण्डोरी, झाबुआ, मण्डला, भिण्ड, आगर-मालवा, बुरहानपुर, खण्डवा, देवास, उमरिया, दतिया, टीकमगढ़, अलीराजपुर, शहडोल, मंदसौर, राजगढ़, विदिशा, पन्ना, शिवपुरी, होशंगाबाद, उज्जैन, सिहोर, नीमच, अशोकनगर, बालाघाट, श्योपुर, ग्वालियर, मुरैना और सागर की गत सात दिनों में औसत पॉजिटिविटी दर एक प्रतिशत या उससे कम रही है।

प्रदेश में 14 जिलों भोपाल, अनूपपुर, रतलाम, दमोह, बैतूल, धार, सीधी, खरगोन, रीवा, जबलपुर, सिवनी, रायसेन, निवाड़ी और इंदौर में विगत सात दिनों में औसत पॉजिटिविटी दर पाँच प्रतिशत या उससे कम रही है। वर्तमान में प्रदेश का कोई भी जिला रेड जोन में नहीं है।

« PREV
NEXT »

No comments