BREAKING NEWS
latest

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से कम हो रहा है,मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की....



   

 MP NEWS: मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से कम हो रहा है। प्रदेश में कोरोना के नए प्रकरण पाँच हजार से कम हो गए हैं। प्रदेश के 40 जिलों में कोरोना पॉजिटिविटी दर 10 प्रतिशत से कम हो गई है, वहीं 9 जिलों में यह पाँच प्रतिशत से भी कम है।

 मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश के जिन जिलों में पिछले कुछ दिनों से प्रकरण कम नहीं हो रहे हैं, वहाँ क्षेत्रवार रणनीति बनाकर तथा किल कोरोना अभियान एवं कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कर संक्रमण की चेन तोड़ी जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमें इस माह के अंत तक प्रदेश के सभी जिलो में कोरोना संक्रमण को समाप्त करने के हरसंभव प्रयास करने हैं, जिससे आगामी माह से जन-जीवन सामान्य करने की दिशा में प्रयास किए जा सकें। प्रभारी मंत्रियों के निर्देशन में सभी प्रभारी अधिकारी अपने जिले में एरिया स्पेसिफिक रणनीति बनाकर उसे सख्ती से लागू करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। वी.सी. में मंत्री, प्रभारी अधिकारी तथा सभी संबंधित उपस्थित थे।

संक्रमण की चेन टूटनी चाहिए

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सीधी जिले की समीक्षा के दौरान कहा कि सीधी में पिछले तीन दिनों से लगभग 80 प्रकरण रोज आ रहे हैं। प्रकरणों में गिरावट नहीं आ रही है। प्रकरण स्थिर हैं। अत: संक्रमण की चेन नहीं टूटी है। देखें कहाँ ढील है। संक्रमण की चेन हर हालत में टूटनी चाहिए। सिंगरौली जिले में भी पिछले कुछ दिनों से लगभग 90 प्रकरण रोज आ रहे हैं, प्रकरणों में गिरावट नहीं हो रही है। वहाँ भी किल कोरोना अभियान एवं कोरोना कर्फ्यू का सख्त पालन कर संक्रमण समाप्त किया जाए। दोनों जिलों के कलेक्टर ध्यान दें कि तेंदूपत्ता तुड़ाई के दौरान सभी सावधानियाँ अनिवार्य रूप से रखी जाएँ। वैक्सीनेशन पर भी ध्यान दें।

भोपाल में भी प्रकरण लगभग स्थिर

भोपाल जिले की समीक्षा में पाया गया कि यहाँ भी पिछले कुछ दिनों से 650 से 700 के बीच प्रकरण आ रहे हैं। इससे यह प्रतीत होता है कि कुछ क्षेत्रों में संक्रमण की चेन नहीं टूटी है। एरिया स्पेसिफिक रणनीति बनाकर कार्य किया जाए तथा संक्रमण की चेन तोड़ी जाए।

4952 नए प्रकरण

प्रदेश में 4952 नए प्रकरण आए हैं। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 9746 मरीज स्वस्थ हुए हैं। एक्टिव प्रकरण 72 हजार 725 हैं। साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 9 प्रतिशत रह गई है तथा आज की पॉजिटिविटी दर 6.4 प्रतिशत है। संक्रमण की दृष्टि से देश में प्रदेश 16वें स्थान पर है।

तीन जिलों में 200 से अधिक नए प्रकरण

प्रदेश के तीन जिलों में 200 से अधिक नए प्रकरण तथा नौ जिलों में 100 से अधिक नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 1072, भोपाल में 693, जबलपुर में 336, उज्जैन में 197, सागर में 187, रतलाम में 162, रीवा में 158, ग्वालियर में 135 और शिवपुरी जिले में 102 नए प्रकरण आए हैं।

40 जिलों में 10 प्रतिशत से कम पॉजिटिविटी दर

प्रदेश के 9 जिलों में 5 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है, वहीं 40 जिलों में 10 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर है। गुना, छिंदवाड़ा, भिंड, बड़वानी, अशोकनगर, बुरहानपुर, झाबुआ, खंडवा, अलीराजपुर में 5 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी है तथा इन जिलों सहित जबलपुर, ग्वालियर, शिवपुरी, दमोह, होशंगाबाद, शहडोल, मंदसौर, सतना, धार, बालाघाट, रायसेन, देवास, मुरैना, कटनी, उमरिया, राजगढ़, शाजापुर, विदिशा, छतरपुर, मंडला, सिंगरौली, आगर-मालवा, सिवनी, डिण्डौरी, दतिया, श्योपुर, नरसिंहपुर, हरदा, टीकमगढ़, निवाड़ी तथा नीमच में 10 प्रतिशत से कम साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर है।

20 हजार 856 मरीजों का नि:शुल्क इलाज

प्रदेश में कोविड के 20 हजार 495 मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया जा रहा है। इनमें से 12 हजार 643 का शासकीय अस्पतालों में, 2260 का अनुबंधित अस्पतालों में तथा 5953 मरीजों का मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना के अंतर्गत सम्बद्ध निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में मरीजों के इलाज पर शासन द्वारा आज तक की स्थिति में 7 करोड़ 45 लाख 55 हजार 850 रूपए व्यय हुये है।

नकली दवाओं, कालाबाजारी पर 72 लोगों के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण

प्रदेश में नकली रेमडेसिविर बेचने वालों, कालाबाजारी करने वाले 72 व्यक्तियों के विरूद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा अधिक शुल्क लिए जाने पर अस्पतालों के विरूद्ध कार्रवाई की गई है। कुल 265 प्रकरणों में कार्रवाई करते हुए मरीजों के परिजनों को एक करोड़ नौ लाख रूपए की राशि वापस दिलाई गई है।

ग्रामीण क्षेत्रों में 2.9 प्रतिशत पॉजिटिविटी दर

किल कोरोना अभियान के अंतर्गत प्रदेश की 80 प्रतिशत ग्रामीण जनता का सर्वे किया जा चुका है। आज की स्थिति में 3075 टैस्ट में से 237 प्रकरण पॉजीटिव आए हैं। आज ग्रामीण क्षेत्रों की पॉजिटिविटी दर 2.9 प्रतिशत है। शहरी क्षेत्रों में आज 4.1 प्रतिशत पॉजिटिविटी आई है।

'योग से निरोग' वर्चुअल कार्यक्रम से सभी जुड़ें

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में चलाए जा रहे 'योग से निरोग' कार्यक्रम में 21 मई को दोपहर 12 बजे श्री श्री रविशंकर जी एवं योगगुरू स्वामी बाबा रामदेव जी मार्गदर्शन देंगे। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से वेब लिंक के माध्यम से सभी होम आइसोलेटेड मरीज, कोविड केयर सेंटर्स के मरीज, आइसोलेशन वार्ड के मरीज सहित अधिक से अधिक संख्या में लोग जुड़ें एवं लाभ लें।



« PREV
NEXT »

No comments