BREAKING NEWS
latest

Tandav वेब सीरीज सनातन धर्म के छवि को धूमिल करने का प्रयास है- स्वामी राम शंकर


 



राष्ट्रीय खबर। वेब सीरीज तांडव को देखकर क्षुब्ध हुये एक युवा संन्यासी (जिनका नाम है स्वामी राम शंकर) ने कहा इस वेब सीरीज में भगवान श्रीराम, भगवान भोलेनाथ का जिस तरह उपयोग किया गया है वो अत्यंत निन्दनीय हैं। किसी को भी हक़ नही कि सनातन धर्म और हमारी आस्था को अपने स्वार्थ हेतु हमारे ईश्वर के स्वरूप को इस तरह से दिखाये कि दर्शक देख कर खिल्ली उड़ाये। हो सकता है आपकी फिल्मों का कथानक काल्पनिक हो पर आपको ध्यान रखना चाहिये हमारे भगवान वास्तविक है और वास्तव को काल्पनिक बनाना आपके लिये कष्टकारी होगा। स्वामी राम शंकर ने बालीबुड के सभी  निर्माता निर्देशक व अभिनेता अभिनेत्री तथा हास्य कलाकार को सम्बोधित करते हुये सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया है जिस वीडियो को सबको सुनना चाहिये ... स्वामी राम शंकर का कहना है कि जब रचनाधर्मी सीमा का उल्लंघन करें तब उसे माफ नही किया जा सकता। आजकल पब्लिसिटी पाने के लिये अपने फ़िल्म, वेब सीरीज को चर्चा में लाने के लिये सनातन धर्म को जिस तरह फिल्मों में मजाक बना कर दिखाया जा रहा है हमारे देवी - देवता आराध्य के छवि को जिस तरह बिगाड़ के दिखाया जा रहा है वह बहुत घृणित कार्य है। ऐसे लोगो का व इनके रचना का पूरी तरह बहिष्कार होना चाहिये तभी जा कर फ़िल्म निर्माण से जुड़े लोग अपनी आदत में सुधार लायेंगे। आपको बता दे स्वामी राम शंकर हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में स्थित बैजनाथ धाम में रहते है। सोशल मीडिया पर इन्हें डिजिटल बाबा के नाम से पहचाना जाता हैं। डिजिटल बाबा युवा वर्ग को आध्यात्मिक संस्कृतिक मूल्यों से जोड़ने हेतु वेद शास्त्र रामायण उपनिषद में निहित ज्ञान को सरल भाषा मे ढाल कर वो सोशल मीडिया के जरिये युवाओं को बताते रहते है। स्वामी राम शंकर डिजिटल बाबा के फेरिफाइड फेसबुक पेज पर 79 हजार 500 लोग फॉलो करते है जिनमे अधिकतर लोग युवा है। स्वामी राम शंकर का कहना है कि जहा भी कुछ बुराई है उस पर बात होनी चाहिये पर बात करने का तरीका सही होना चाहिये बात करने का प्रयोजन सही होना चाहिये । फ़िल्म मनोरंजन जगत से जुड़े लोगों द्वारा धर्म को ज़बरदस्ती विवादित रूप में ढाल कर दिखाना इसे कभी माफ नही किया जा सकता।



« PREV
NEXT »

कोई टिप्पणी नहीं