BREAKING NEWS
latest

राजगढ़ सकल श्रीसंघ पहुंचा दिल्ली, मुनिश्री से की आयोजन में पधारने की विनती,4 करोड़ से जीर्णोद्धार हो रहे मंदिरजी का 8 मई को होना है प्रतिष्ठा महोत्सव....




  राजगढ़(धार)। करीब चार करोड़ रुपए की लागत बनकर तैयार हो रहे नगर के अतिप्राचिन जैन मंदिर श्री आदेश्वरजी मंदिर की प्रतिष्ठा महोत्सव 8 मई 2022 को होना है लेकिन इसकी तैयारियों का दौर अभी से आरंभ हो चुका है। प्रतिष्ठा महोत्सव को निश्रा प्रदान करने के लिए समाज के आचार्यों से लगातार विनती करने का सिलसिला भी जारी है। इसी कड़ी में शनिवार को राजगढ़ श्रीसंघ का एक प्रतिनिधि मंडल दिल्ली स्थित मंडार श्रीसंघ आराधना भवन पहुंचा। यहां पर आचार्यश्री नवरत्न सागर सूरीश्वरजी के प्रिशिष्य आध्यात्मिक योगी गणीवर्य आदर्श रत्न सागर जी से मुलाकात कर उनसे आदेश्वरजी मंदिर की प्रतिष्ठा महोत्सव में पधारने की विनती की। यहां उपस्थित मुनिश्री अक्षतरत्न सागरजी से भी मुलाकात कर मंदिर निर्माण संबंधी जानकारी दी गई। मुनिश्री ने प्रतिनिधि मंडल को आष्वस्त किया कि जीर्णोद्धार संबंध में जहां कहीं भी हमारी आवश्यकता हो,हमें बताए। हम इसेक लिए सहर्ष तैयार है। आयोजन गरिमामय एवं भव्य स्वरूप में हो,ऐसा प्रयास करने के लिए भी श्रीसंघ को मार्गदर्शन दिया गया। इस पर मुनिश्री ने सहर्ष स्वीकृति प्रदान की। इस अवसर पर ऋषभदेव मोतीलाल ट्रस्ट अध्यक्ष मनोहर जैन कांग्रेसा, पूर्व अध्यक्ष दिनेश संघवी, ट्रस्टी वीरेंद्र जैन व सुशील जैन आदि उपस्थित थे। गौरतलब है कि गुरु नवरत्न के शिष्य एवं आचार्यश्री मृदुरत्न सागर सूरीश्वरजी चातुर्मास के लिए उदयपुर में विराजित हैं। उन्होंने भी श्रीसंघ के आग्रह पर समारोह में भाग लेने की स्वीकृति प्रदान कर दी है।

आचार्यश्री का सपना होगा साकार

  नगर के आदेश्वरजी मंदिर के जीर्णोद्धार का स्वप्न मालव भूषण तपशिरोमणी आचार्यश्री नवरत्न सागर सूरिश्वरजी ने देखा था। आचार्यश्री के पट्टधर युवाचार्य श्री विश्वरत्न सागरसुरीश्वरजी ने इसे पूरा करने का संकल्प लेकर दो वर्ष पूर्व मंदिर के जीर्णोद्धार के तहत पहली शीला पूजन कर शुरूआत करवाई थी। कोरोना के चलते निर्माण कार्य प्रभावित भी हुआ। हालांकि अब काम बेहद गति से चल रहा है। षिखर निर्माण का कार्य प्रारंभ हो चुका है।

मार्च तक ही कार्य पूर्ण होने की उम्मीद

 ट्रस्ट सचिव राजेश कमदार ने बताया कि उम्मीद है कि मंदिर निर्माण कार्य मार्च में ही पूर्ण हो जाएगा। मौजूदा समय में मंदिर के लिए दरवाजे, ध्वजदंड, कलश एवं फर्श की तैयारियां प्रारंभ कर दी गई है। उन्होंने बताया कि गुरुदेव नवरत्न सूरीजी के सभी शिष्य परिवार को इस अवसर पर आमंत्रित किया जाएगा। उनकी उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए सकल श्रीसंघ का प्रतिनिधि मंडल उनके चातुर्मास स्थल जाकर समारोह में सहभागिता कर विनती कर रहा है।
« PREV
NEXT »

No comments