BREAKING NEWS
latest

मुनिद्वय से गुरूसप्तमी महोत्सव में निश्रा देने की विनती की

राजगढ़(धार)। ज्योतिषाचार्य श्री जयप्रभ विजयजी के षिष्य एवं गच्छाधिपति आचार्यश्री ऋषभचंद्रसूरीजी आज्ञानुवर्ति मालव केशरी वरिष्ठ मुनिराज श्री हितेषचन्द्रविजयजी एवं दिव्यचंद्र विजयजी का चातुर्मास तमिलनाडू के मधुराइ में चल रहा हैं। इसी के चलते श्री मोहनखेड़ा तीर्थ के ट्रस्ट मंडल ने चातुर्मासिक स्थल पहुंचकर मुनिद्वय से भेंटकर मोहनखेड़ा में आयोजित होने वाले गुरू सप्तमी महोत्सव पर निश्रा प्रदान करनेऔर शीघ्र मालनांचल में आने की विनती की। । इस अवसर पर तीर्थ मैनेजिंग ट्रस्टी सुजानमल जैन, कोषाध्यक्ष हुकमचंद वागरेचा, ट्रस्टी बाबुलाल खिमेसरा, मेघराज जैन, कमल लुणिया, मांगीलाल रामाणी, भेरूलाल गादिया, जयंतीलाल कंकूचोपड़ा, संजय सराफ, अरविंद जैन, महाप्रबंधक अर्जूनप्रसाद मेहता आदि मौजूद थे। सभी ट्रस्टियों को मदूराई जैन श्रीसंघ की ओर से मोतियों की माला से बहुमान किया गया।

« PREV
NEXT »

No comments