BREAKING NEWS
latest

कोरोना में सफलता - प्रो.डॉ दिनेश गुप्ता- आनंदश्री




(प्रो डॉ दिनेश गुप्ता- आनंदश्री,आध्यात्मिक व्याख्याता एवं माइन्डसेट गुरु,मुम्बई)

 पहली लहर, दूसरी लहर के बाद  तीसरी लहर का आगमन की तैयारी शुरू हो चुकी है। हमारा देश उसके लिए भी पहली लहर से ज्यादा सतर्कपूर्वक तैयार है।

आज से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। हमारी दुनिया फिर से पटरी पर आने शुरू हो गयी है। फिर से सड़कों पर आवाजाही शुरू हो रही है।

कोरोना में सफलता कैसे हासिल करें। सफलता की परिभाषा बदल चुकी है अब सफलता की परिभाषा बदल चुकी है।  अबकी सफलता बाहरी नही अंदरूनी है। अंदर ही सफलता है। यह हम सभी ने जाना इस कोरोंना काल में जाना।

नई शुरुआत,नए नियम: कोरोना में सफल पाने के लिए नई पारी, नई शुरुवात और नए नियम की जरूरत है। सफलता आज पर निर्भर है। आज जो करोगे वही सफलता बनकर कर फल देगा। अब हमें नए खेल खेलने की जरूरत है।  नए नियम की जरूरत है। ऑफ लाइन से अब डिजिटल होना पड़ेगा। पूरा संसार अब डिजिटलमय हो गया है। अब आप जो भी कर रहे हो आपको डिजिटल होना ही पड़ेगा। यही आपको सफल, और सफल बनाएगा।

रचनात्मक बने: कोरोना में सफलता पाने के लिए आपको रचनात्मक बनना होगा। आपको अपने कार्य स्थल, अपने काम मे, परिवार में, व्यापार में, खेल में , पढ़ाई में रचनात्मक होना ही होगा। "विद्या वान गुणी अति चातुर" - हनुमान चालीसा की यह लाईन बहुत की कारगर सिद्ध होती है आज के परिवेश में। आज केवल विद्या ही नही हमे स्मार्ट भी बनना होगा। यही समय और कोरोना काल की मांग है।
« PREV
NEXT »

कोई टिप्पणी नहीं