BREAKING NEWS
latest

संघ और भाजपा के हिंसक चरित्र के ठीक विपरीत,पी.सी.सी.पहुंचने वाले भाजपा नेताओं का,फूलों से स्वागत करेगी कांग्रेस पार्टी,गांधी और गोडसे की विचारधारा में यही मूलभूत फर्क है : शोभा ओझा

 Bhopal: मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी मीडिया विभाग की अध्यक्षा श्रीमती शोभा ओझा ने हुजूर विधानसभा के विधायक और "गोडसे-भक्त प्रज्ञा ठाकुर" के समर्थक श्री रामेश्वर शर्मा द्वारा प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पी.सी.सी. पर कल 6 दिसंबर को मिठाई बांटे जाने की घोषणा को लेकर ,अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि कांग्रेस पार्टी महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलती है, वह गोडसे की तरह नफरत फैलाने वाली विचारधारा के ठीक विपरीत, आपसी भाईचारे का संदेश देती आई है, लिहाजा कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता पी.सी.सी. आने वाले भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं का, अपने कार्यालय पर फूलों से स्वागत करेंगे, बावजूद इसके कि जब एक कांग्रेस विधायक ने भाजपा कार्यालय पहुंच कर, प्रज्ञा ठाकुर के मुद्दे पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया था, तब भाजपा की तरफ से उनके स्वागत के लिये लठैत तैनात कर दिये गये थे, गांधी और गोडसे की विचारधारा में यही मूलभूत फर्क है।



 आज जारी अपने बयान में उपरोक्त विचार व्यक्त करते हुए कांग्रेस के मीडिया विभाग की अध्यक्षा ने आगे कहा कि गांधीजी के हत्यारे गोडसे को देशभक्त बताने वाली प्रज्ञा ठाकुर को "शेरनी" का दर्जा देने वाले भाजपा विधायक रामेश्वर ठाकुर की भी राष्ट्रपिता के प्रति घृणित सोच, अब पूरी तरह से स्पष्ट हो चुकी है। ऐसी परिस्थिति में जबकि देश की सुप्रीम कोर्ट भी बाबरी विध्वंस को असंवैधानिक और गैरकानूनी ठहरा चुकी है, तब उस कृत्य के लिए गौरव की भावना की अनुभूति, साफ तौर से देश की सर्वोच्च अदालत के प्रति भाजपा के असम्मान को दर्शा रही है।

 अपने बयान में श्रीमती ओझा ने आगे कहा कि लगातार शहीदों का अपमान करते आ रहे नेताओं की पार्टी भाजपा से हम संविधान, भारतीय लोकतंत्र, उसके महापुरुषों और न्यायपालिका के सम्मान की अधिक उम्मीद इसलिए नहीं लगा सकते क्योंकि पिछले दिनों ही भोपाल की भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को गांधीजी व शहीद करकरे के अपमान और गोडसे के महिमामंडन के बावजूद, रक्षा जैसी देश की महत्वपूर्ण संसदीय समिति का सदस्य बना कर केंद्र सरकार द्वारा सम्मानित और प्रोत्साहित किया गया था।

 अपने बयान के अंत में श्रीमती ओझा ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी के हिंसक चरित्र के ठीक विपरीत, कांग्रेस पार्टी अपने कार्यालय पर आने वाले भाजपा नेताओं का, फूलों से स्वागत कर, एक बार फिर यह सिद्ध कर देना चाहती है कि गांधी की विचारधारा के समर्थक किसी भी सूरत में गोडसे की नीतियों का समर्थन और अनुसरण नहीं कर सकते क्योंकि संघ की विचारधारा के ठीक विपरीत, सत्य-अहिंसा जैसे इस देश के शाश्वत मूल्यों के प्रति कांग्रेस पार्टी की निष्ठा अब भी पूरी तरह अक्षुण्ण है और इस देश की आजादी के साथ ही यहां के लोकतंत्र, भाईचारे व आपसी सद्भाव को बनाए रखने के लिए उसने कई महत्वपूर्ण कुर्बानियां भी दी हैं।
« PREV
NEXT »

No comments