BREAKING NEWS
latest

"जनगणना-2021" का सही डाटा तैयार करने गंभीरता से प्रशिक्षण प्राप्त करें मास्टर ट्रेनर्स,प्रमुख सचिव गृह श्री मिश्रा द्वारा प्रशासन अकादमी में मास्टर ट्रेनर्स प्रशिक्षण का शुभारंभ....


 BHOPAL:  प्रमुख सचिव गृह श्री एस.एन. मिश्रा ने आज आर.सी.व्ही.पी नरोन्हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी में 'जनगणना-2021' के लिये प्रथम चरण के 6 दिवसीय मास्टर ट्रेनर्स प्रशिक्षण का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि जिलों की पूरी जनगणना का सही डाटा तैयार करने में मास्टर ट्रेनर्स की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसलिये प्रशिक्षण को गंभीरता से लें, शंकाओं के समाधान के लिये संवाद जरूर करें। प्रमुख सचिव ने कहा कि जनगणना के अंतिम परिणाम की गुणवत्ता मास्टर ट्रेनर्स की योग्यता पर ही निर्भर है।
 श्री एस.एन. मिश्रा ने बताया कि 'जनगणना-2021' को डिजिटल जनगणना कहा जा सकता है। इस जनगणना का कार्य ''मिक्स मोड एप्रोच'' यथा मोबाइल एप्प एवं पेपर मोड द्वारा संपादित किया जाएगा। यह जनगणना पूर्व जनगणना से भिन्न है। इसमें सभी कार्यो के सतत् पर्यवेक्षण एवं प्रगति की मॉनिटरिंग ''सेन्सस मैनेजमेन्ट एण्ड मॉनीटरिंग सिस्टम'' (सी.एम.एम.एस.) पोर्टल से की जाएगी। जनगणना के सभी कार्यों की प्रत्येक स्तर पर रियल टाइम मॉनीटरिंग की जाएगी। श्री मिश्रा ने बताया कि जनगणना के दोनों चरण में एप्प के माध्यम से डाटा कलेक्शन होगा, जिसका विश्लेषण और बहुआयामी उपयोग किया जा सकेगा।
 जनगणना कार्य निदेशालय के उप संचालक श्री अजय सहाय ने कहा कि राष्ट्रीय महत्व के इस कार्य के सुचारू एवं सफल संचालन के लिये प्रशासन अकादमी में 18 नवम्बर से 23 नवम्बर तक 57 और 2 दिसम्बर से 7 दिसम्बर तक 58 मास्टर्स ट्रेनर्स को प्रशिक्षित किया जाएगा। ये मास्टर ट्रेनर्स विभिन्न जिलों में लगभग 2850 फील्ड ट्रेनर्स को प्रशिक्षण देंगे। फील्ड ट्रेनर्स लगभग एक लाख 74 हजार 221 प्रगणकों/पर्यवेक्षकों को प्रशिक्षण देंगे। प्रशासन अकादमी में मास्टर ट्रेनर्स को नई दिल्ली में प्रशिक्षित 4 नेशनल ट्रेनर दो चरणों में प्रशिक्षण देंगे।
 कार्यक्रम में बताया गया कि प्रशिक्षण के अंतिम दिन प्रतिभागियों को ग्रामीण एवं नगरीय इकाई में फील्ड विजीट कराया जाएगा, जिससे उन्हें वास्तविक फील्ड कार्य का अनुभव होगा। जनगणना के प्रथम चरण में मकानों का सूचीकरण एवं गणना तथा राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के अद्यतिकरण का कार्य अप्रैल से सितम्बर 2020 तक राज्य शासन द्वारा निर्धारित कुल 45 दिनों में सम्पन्न किया जाएगा। द्वितीय चरण में जनसंख्या गणना कार्य 9 फरवरी से 28 फरवरी 2021 तक किया जाएगा।
« PREV
NEXT »

No comments